Old Pension Scheme : रायपुर। राज्य के सरकारी कर्मचारी और पुरानी पेंशन योजना को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है। राजस्थान की भजन लाल शर्मा की सरकार ने ओल्ड पेंशन स्कीम यानी पुरानी पेंशन योजना को बंद कर दिया है और उसकी जगह राज्य में फिर से एनपीएस यानी नई पेंशन स्कीम लागू करदी है। जिसके बाद से यह कयास लगाए जा रहे हैं कि छत्तीसगढ़ में भी ओपीएस बंदकर एनपीएस लागू की जाएगी।

Old Pension Scheme : दरअसल, राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने में 2023 विधानसभा चुनाव से पहले राज्य के सरकारी कर्मचारियों के लिए ओल्ड पेंशन स्कीम लागू की थी।

तभी छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली सरकार ने भी राज्य में ओपीएस लागू कर दी थी। अब इस फैसले को भाजपा की भजनलाल शर्मा की सरकार ने बंद कर दिया है। इसके बाद से अब यह कयास लगाए जाने लगे की ओपीएस छत्तीसगढ़ में भी बंद की जा सकती है।

आपको बता दें कि केंद्र सरकार कभी भी ओपीएस के पक्ष में नहीं रही है। केंद्र सरकार ने पहले भी राज्यों को पुरानी पेंशन योजना लागू न करने की समझाइस दी थी।

केंद्रीय वित्तमंत्री ने साफ तौर पर कहा था कि हिमाचल, राजस्थान, छत्तीसगढ़, पंजाब, झारखंड की जैसे राज्यों की सरकार के इस फैसले से राज्यों पर बोझ बढ़ेगा। बावजूद इसके राजस्थान और छत्तीसगढ़ समेत आधा दर्जन राज्यों में कांग्रेस सरकार ने एनपीएस हटाकर ओपीएस लागू किया था।

अब ऐसे में जब राजस्थान में ओपीएस को बंद करने की शुरूआत हो चुकी है और एनपीएस लागू कर दिया गया है। तब सवाल यह उठ रहे हैं की संभव है छत्तीसगढ़ में भी यह योजना बंद हो जाए। क्योंकि केंद्र में भी भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार है और छत्तीसगढ़ में भी भाजपा के सीएम हैं। ऐसे में स्वाभाविक है कि एक तरह की योजनाएं भाजपा शासित राज्यों में लागू हो सकती है।

ये खबर भी पढ़े-   Mahtari Vandana Yojana first installment: 7 मार्च को जारी होगी महतारी वंदन योजना की पहली किस्त..

Old Pension Scheme: छत्तीसगढ़ में बंद होगी पुरानी पेंशन स्कीम? BJP सरकार के फैसले ने चौंकाया