HAPPY NEW YEAR 2024, Top 5 Low Budget Destination to Celebrate new
HAPPY NEW YEAR 2024, Top 5 Low Budget Destination to Celebrate new

HAPPY NEW YEAR 2024: आज हम कुछ ऐसी खूबसूरत और कम भीड़ वाली जगहों के बारे में जानते हैं, जहां आप नए साल के जश्न को यादगार बना सकते हैं..

नए साल का जश्न मनाने के लिए लोग अकसर शिमला, मनाली, गोवा जैसी जगहों को पसंद करते हैं. परंतु इन जगहों पर बहुत अधिक भीड़ रहती है जिससे नए साल का मजा किरकिरा हो जाता है.

भीड़ की वजह से वहां के होटलों और रिजॉर्ट्स की कीमतें भी काफी बढ़ जाती हैं.नए साल के मौके पर वहां ठहरना और खाना काफी महंगा हो जाता है. इसलिए ऐसी जगहें चुननी चाहिए जहां न कम भीड़ हो बल्कि देखने में खूबसूरत भी.

ऐसे में, हमें प्रकृति की गोद में स्थित कोई शांत और कम खर्चीली जगह चुननी चाहिए, जहां से प्रकृति की सुंदरता का भी आनंद लिया जा सके. चलिए हम कुछ ऐसी ही खूबसूरत और कम भीड़ वाली जगहों के बारे में जानते हैं, जहां आप नए साल के जश्न को यादगार बना सकते हैं.

चंद्रताल

यह एक बेहद खूबसूरत और कम भीड़ वाली जगह है जहां आप नए साल के मौके पर जा सकते हैं. यह झील हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति जिले में स्थित है. चंद्रताल को देखकर लगता है मानों किसी स्वर्ग से आई हो. इसके चारों ओर हरियाली भरे पहाड़ और हिमालय की सफेद चोटियां दिखाई देती हैं. यहां का नैसर्गिक सौंदर्य अद्भुत है.चंद्रताल पर्यटकों की भीड़ से अछूती रहती है. इसलिए, नए साल पर आप यहां अपने परिवार और दोस्तों के साथ बिता सकते हैं. शांत वातावरण, स्वच्छ हवा, खूबसूरत दृश्य और कम भीड़ चंद्रताल को नए साल के जश्न के लिए एक यादगार जगह बना देते हैं.

ये खबर भी पढ़े-   डैम में कूदकर सुसाइड की कोशिश: फोन पर बात करते-करते किशोरी ने नदी में लगाई छलांग, पुलिसकर्मियों नाबालिग को हाथ पकड़कर खींचा बाहर

काजा

यह भी नए साल के मौके पर जाने के लिए एक बेहतरीन विकल्प है. यह एक प्राकृतिक और खूबसूरत झरना है, जिसे छोटा नियाग्रा भी कहा जाता है. 200 फीट की ऊंचाई से गिरते इस झरने का नजारा बहुत ही आकर्षक है. पानी की ये धाराएं नीचे की घाटी में एक सरोवर बना देती हैं. काजा झरने के आसपास का प्राकृतिक नजारा बहुत सुंदर है. यहां आप प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद ले सकते हैं. साथ ही, यहां पर भीड़ भी काफी कम रहती है.

मलाणा

यह एक बहुत ही खूबसूरत गांव है जो हिमाचल प्रदेश के कसौली शहर के पास स्थित है. यह गांव किन्नौर कादर घाटी के किनारे बसा हुआ है. इस गांव से कादर घाटी का प्राकृतिक दृश्य बहुत ही मनोरम लगता है. चारों और हरियाली भरी पहाड़ियां, फूलों से भरे मैदान और नीली आसमान में तैरते बादलों का नजारा इंसान को मंत्रमुग्ध कर देता है.मलाणा गांव में पर्यटकों की भीड़ बहुत कम रहती है. इसलिए, नए साल के मौके पर आप यहां के प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद ले सकते हैं और शांतिपूर्ण समय बिता सकते हैं.

भरमौर

भरमौर एक ऐतिहासिक शहर है जो कि चंबा घाटी में स्थित है. यहां के पुराने मंदिर और किले देखने लायक हैं. भरमौर घने जंगलों और हरे-भरे पहाड़ों से घिरा हुआ है. यहां की हवा में ताजगी भरी है और आस-पास के प्राकृतिक दृश्य शांति प्रदान करते हैं. नव वर्ष के मौके पर यहां बहुत कम भीड़ होती है.

कल्पा

यह किन्नौर जिले में स्थित है और शिमला से 225 किमी दूर है. कल्पा अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए प्रसिद्ध है. यहां की हरियाली भरी वादियां, ऊंची चोटियां और ठंडी हवाएं पर्यटकों को बहुत आकर्षित करती हैं. लेकिन यहां कम लोग पहुंच पाते हैं.

ये खबर भी पढ़े-   Rain Alert in CG: आज भी गरज-चमक के साथ होगी जोरदार बारिश, ठंडी हवा बढ़ाएगी कंपकपी…

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों और सुझाव पर अमल करने से पहले संबंधित एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें