Journalism cheating student wrote a letter to the Vice Chancellor
Journalism cheating student wrote a letter to the Vice Chancellor

रायपुर। वार्षिक परीक्षा में दो छात्रों ने नकल मारा। एक पास हो गया दूसरा फेल। इसीलिए कहा गया है कि नकल मारने के लिए भी अकल की जरूरत पड़ती है। ऐसे ही विफल छात्र ने पास होने वाले छात्रा की कुलपति से शिकायत कर जांच की मांग की है।

यह मामला ठाकरे पत्रकारिता विवि का है। बी एस सी- ईएम द्वितीय सेमेस्टर के छात्र अमन वर्मा ने कुलपति से यह लिखित शिकायत की है। इसमें अमन ने कहा है कि परीक्षा में अनुचित साधन के उपयोग (नकल) प्रकरण मामले में विवि ने भेदभाव पूर्ण कार्यवाही की है। अमन का कहना है कि उसके प्रकरण में परीक्षा को निरस्त किया गया है जबकि अन्य छात्रा को अच्छे अंकों (70%) अंकों से पास किया गया है।

परीक्षा निरस्त करने की सूचना भी उसे अमन को नहीं दी गई। सो वह पुनः परीक्षा देने फार्म जमा नहीं कर पाया। अमन ने कुलपति से उच्च स्तरीय जांच कर परीक्षा नियंत्रक, कुलसचिव पर कार्रवाई की मांग की है। । अमन ने अपनी शिकायत के साथ हाथ में लिखी सामग्री की फोटो भी संलग्न किया है।

रायपुर। वार्षिक परीक्षा में दो छात्रों ने नकल मारा। एक पास हो गया दूसरा फेल। इसीलिए कहा गया है कि नकल मारने के लिए भी अकल की जरूरत पड़ती है। ऐसे ही विफल छात्र ने पास होने वाले छात्रा की कुलपति से शिकायत कर जांच की मांग की है।

यह मामला ठाकरे पत्रकारिता विवि का है। बी एस सी- ईएम द्वितीय सेमेस्टर के छात्र अमन वर्मा ने कुलपति से यह लिखित शिकायत की है। इसमें अमन ने कहा है कि परीक्षा में अनुचित साधन के उपयोग (नकल) प्रकरण मामले में विवि ने भेदभाव पूर्ण कार्यवाही की है। अमन का कहना है कि उसके प्रकरण में परीक्षा को निरस्त किया गया है जबकि अन्य छात्रा को अच्छे अंकों (70%) अंकों से पास किया गया है।

ये खबर भी पढ़े-   AAP को बड़ा झटका, Supreme Court ने 15 जून तक पार्टी दफ्तर खाली करने का दिया आदेश

परीक्षा निरस्त करने की सूचना भी उसे अमन को नहीं दी गई। सो वह पुनः परीक्षा देने फार्म जमा नहीं कर पाया। अमन ने कुलपति से उच्च स्तरीय जांच कर परीक्षा नियंत्रक, कुलसचिव पर कार्रवाई की मांग की है। । अमन ने अपनी शिकायत के साथ हाथ में लिखी सामग्री की फोटो भी संलग्न किया है।

पत्रकारिता के नकलची स्टूडेंट ने कुलपति को लिखा पत्र…. ‘नकल मारने के लिए भी अकल की जरूरत पड़ती है’