CG में गैंगरेप : बालोद। छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में युवती से गैंगरेप करने वाले दरिंदों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. मामले में पुलिस ने घटनास्थल से लेकर 8 जगहों तक करीब 150 सीसीटीवी फुटेज खंगालने, जिसके बाद सफलता मिली. यह मामला गुंडरदेही थाना क्षेत्र का है.

पीड़िता ने गुण्डरदेही थाने में 15 जनवरी को अपने साथ हुए सामुहिक दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराई। जिसपर पुलिस ने धारा 363, 376, (2)(ए), 376 (डी), 294, 506, 323 के तहत अपराध दर्ज कर मामले की जांच में जुट गई. वहीं मामले में पुलिस ने 3 टीम गठित किया.

CG Gang rape
CG Gang rape

मामले में गठित टीम के ने घटना स्थल और आस पास के सीसीटीव्ही फुटेज में आरोपी राहुल देवार और बबलु देवार को कपड़ा दुकान पर कुछ सामान खरीदते हुए दिखे. प्राप्त फुटेज के आधार पर जांच किया गया तभी मुखबीर से सूचना मिला की एक आरोपी बबलु देवार पुलिस को देखकर गिरफ्तारी के भय से बस स्टैंड गुण्डरदेही के एक होटल में लुकछिप रहा है. जिसे तत्काल घेराबंदी कर पकड़ा गया.

पूछताछ में आरोपी ने अपने साथी राहुल देवार, विक्रम देवार के साथ मिलकर घटना को अंजाम देने स्वीकार किया.घटना के बाद आरोपी राहुल देवार, विक्रम देवार फरार हो गए थे. आरोपियों की तलाश में लगी सायबर सेल को चिल्हाटी गांव जिला मोहला मानपुर पर लोकेशन मिला. जिसपर घेराबंदी कर आरोपियों को पुलिस पकड़ने पहुंची लेकिन पुलिस के आने की सूचना पाकर घटना में प्रयुक्त स्कूटी छोड़कर फरार हो गए.

वहीं राजनांदगावं से कवर्धा के बीच सीसीटीवी फुटेज और साइबर सेल बालोद से प्राप्त तकनीकी सहायता के आधार पर पता चला कि आरोपी विक्रम देवार कवर्धा में अपने एक रिश्तेदार के घर छुपा है, जिसे घेराबंदी कर पकड़ा गया. साथ ही नागपुर की ओर रवाना टीम ने आरोपी राहुल देवार के नागपुर (महाराष्ट्र) में लोकेशन मिलने के बाद उसे नागपुर से घेराबंदी कर पकडा गया. मामले में तीनों आरोपियों की पहचान कार्रवाई कराने के बाद उन्हें ज्यूडिशियल रिमांड पर भेजा गया.

ये खबर भी पढ़े-   छत्तीसगढ़ में मिला दुर्लभ प्रजाति का 'लौडांकिया' सांप....

CG में गैंगरेप: युवती का बलात्कार करने वाले 3 गिरफ्तार, 150 CCTV फुटेज खंगालने के बाद आरोपियों तक पहुंची पुलिस