रायपुर : विधानसभा चुनाव के मिली हार के बाद कांग्रेस को लगातार झटका का सामना करना पड़ रहा है। एक के बाद एक कई नेता पार्टी से इस्तीफा दे रहे है। वहीं दूसरी ओर आज अविश्वास प्रस्ताव को लेकर वोटिंग किया गया। जिसमें आरंग जनपद पंचायत अध्यक्ष खिलेश देवांगन को अपनी कुर्सी गवानी पड़ी।

जानकारी के अनुसार आज अविश्वास प्रस्ताव का मत हुआ। जिसमें खिलेश देवांगन को 25 में सिर्फ 1 मत मिला। 25 में से 23 मत अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में पड़े। खिलेश देवांगन को कांग्रेसी जनपद सदस्यों का भी वोट नहीं मिला। जिसके बाद उन्हें अपनी कुर्सी गवानी पड़ी।

आपको बता दें कि रायपुर कलेक्टर ने 17 जनवरी की तारीख अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के लिए तय की थी। ​​​​​जनपद सदस्यों ने अध्यक्ष खिलेश देवांगन के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को लेकर आवेदन दिया था। जिसके बाद आज मत में उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

गौरतलब है कि पूर्व मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया के कारण आरंग जनपद पंचायत अध्यक्ष खिलेश देवांगन निर्विरोध अध्यक्ष चुने गए थे। अपने बेबाक बयानों से हमेशा सुर्खियों में रहने वाले जनपद अध्यक्ष के कार्यों और जनपद सदस्यों की उपेक्षा से उनके ही पार्टी के जनपद सदस्य नाराज चल रहे हैं. इससे पहले भी अध्यक्ष के खिलाफ जनपद सदस्य लामबंद हो गए थे।

CG कांग्रेस को बड़ा झटका, नगरीय निकाय अध्यक्ष को गंवानी पड़ी कुर्सी, अविश्वास प्रस्ताव में हारे

ये खबर भी पढ़े-   CM योगी को बम से उड़ाने की धमकी.. पुलिसकर्मी के CUG पर किया गया हैं फोन, मचा हड़कंप...